ग्रीन विलेज बनाने को लेकर ‘सागी’ में किया जा रहा पौधरोपण, बेटी और वन बचाने का दिया जा रहा संदेश

चौपाल संवाद// समस्तीपुर/बेगूसराय//

Begusarai News - message being given to plantation daughter and save forest for making green village
ग्रीन पाठशाला बीएसएस क्लब और सेल्फी विद ट्री मुहिम के ट्रीमैन राजेश कुमार सुमन पर्यावरण, बेटी और वन को बचाने के लिए देश के हर घर में पौधरोपण करने की ठानी है।
फ़िलहाल समस्तीपुर और बेगूसराय जिला में पेड़ लगाने की पहल शुरू की है। बिहार के समस्तीपुर जिला अंतर्गत रोसड़ा प्रखंड के ढरहा निवासी देश और दुनिया में पौधा वाले गुरुजी ट्री मैन के नाम से मशहूर युवा पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन कार्यकर्ता राजेश कुमार सुमन खोदावंदपुर के प्रखंड के ‘सागी’ गांव को ग्रीनविलेज बनाने के लिए चयनित किया है। जहां उनके नेतृत्व में युवाओं की एक टीम प्रतिदिन सुबह-सुबह गांव को ग्रीन विलेज रूप में विकसित करने के लिए बेटी के सम्मान में बेटी के नाम से हर घर के दरवाजे आंगन में पौधरोपण करते हैं।
शुक्रवार को सागी गांव निवासी रविन्द्र दास की पुत्री अंजली दास के सम्मान में अंजली बिटिया के घर आम का पौधा लगाकर लोगों को बेटी और पर्यावरण बचाने का संदेश दिया। ‘सागी’ गांव में 160वां पौधारोपण करते हुए सेल्फ़ी विद ट्रीमैन सुमन ने पर्यावरण और बेटी बचाओ के प्रति लोगों को सचेत करते हुए कहा कि बेटी हमारी वरदान है, अभिशाप नहीं। उन्होंने कहा कि हमारी टीम पर्यवरण बचाने के उद्देश्य से जन्मदिन और शादी के सालगिरह आदि मौकों पर भी पौधरोपण कर इको फ्रेंडली जन्मदिन और शादी के सालगिरह मनाने के लिए अपील करते हैं।
सबसे खास बात यह है कि ये लोग बिन बुलाए मेहमान होते हैं जो शादी-विवाह समरोह में पहुंचकर वरमाला के समय वर-वधु को इको फ्रेंडली उपहार के रूप में आम का पौधा भेंट करते हैं और उस शादी समारोह को हमेशा के लिए यादगार बनाने हेतु तत्पश्चात वर वधु के पवित्र हाथों से पौधरोपण भी करवाते हैं।

इस पवित्र कार्य में श्री सुमन के अलावे अशोक कुमार, सतीश कुमार, संतोष कुमार, नीतीश कुमार, सोनू कुमार, रामलाल प्रसाद, बिहार के सबसे युवा सरपंच रतन बिहारी, संजय कुमार, संजीव समीर, प्रमोद कुशवाहा, मुकेश गुप्ता, प्रीतम शाही, निर्भय कुमार निराला, नितेश कुमार चौरसिया, ओम शंकर कुमार, राजाराम कुमार आदि युवा लगे हुए हैं।

उन्होंने लोगों से अपील की कि प्रत्येक इंसान को 18 पौधारोपण अवश्य रूप से करना चाहिए।

ज्ञात हो कि देश के कोने कोने से इस कार्य हेतु विभिन्न मंचों से राजेश सुमन सम्मानित किए जा चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here