नियोजित शिक्षकों के स्थानांतरण, भुगतान पर बोले MLC नवल किशोर यादव, हड़ताल की रणनीति के लिए BSSS की बैठक 15 दिसंबर को

पटना/न्यूज अपडेट, ब्रेकिंग न्यूज़/


एमएलसी श्री नवल किशोर यादव ने किया आश्वस्त
आज दिनांक 09/12/2019 को अतुल कुमार सिंह एवं नरोत्तम भास्कर ने नियोजित शिक्षकों के चहेता माननीय विधान परिषद श्री नवल किशोर यादव से मिलकर नियोजित शिक्षकों के ज्वलंत मुद्दा सेवाशर्त एवं अन्तर जिला स्थानांतरण पर करीब एक घंटे तक चर्चा किए एवं इस मुद्दे को खत्म करने के लिए पहल करने हेतु अनुरोध किया गया। एमएलसी श्री नवल किशोर यादव ने आश्वस्त किया हैं कि अन्तर जिला स्थानांतरण को प्रभावी ढंग से रखा जाएगा एवं सेवाशर्त में हरहाल में शामिल किया जाएगा। उक्त आशय की जानकारी टुनटुन कुमार ने दी।

नवल किशोर यादव ने शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव बिहार सरकार एवं प्राथमिक शिक्षा के निदेशक को लिखा पत्र

वहीं ध्यान आकर्षण समिति के अध्यक्ष सह एमएलसी नवल किशोर यादव ने शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव बिहार सरकार एवं प्राथमिक शिक्षा के निदेशक को पत्र लिख कर प्रदेश के सभी नियोजित शिक्षकों के वेतन भुगतान भारतीय स्टेट बैंक से करने के लिए पत्र लिखा है। उन्होंने इस पत्र के माध्यम से कहा है कि 20 जिलों का स्टेट बैंक से भुगतान होता है बाकी जिलों में अन्य बैंक के माध्यम से भुगतान किया जाता है।
अन्य बैंक शिक्षकों को लोन देने में भी आनाकानी करते है। साथ ही साथ स्टेट बैंक गवर्नमेंट सैलरी पैकेज की सुविधा मुहैया करा रही है वहीं अन्य बैंक यह सुविधा नहीं दे रही है। ऐसे में पत्र के माध्यम से कहा गया है कि सभी जिलों में नियोजित शिक्षकों का भुगतान स्टेट बैंक से किया जाए ताकि नियोजित शिक्षकों की समस्या दूर किया जा सके।

बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति की बैठक 15 दिसंबर 2019

इधर नियोजित शिक्षकोंके लिए एक और खबर आ रही है
बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति की एक आवश्यक बैठक दिनांक 15 दिसंबर 2019 को भुवनेश्वर शिक्षक सेवा सदन एक्जिविशन रोड पटना में दोपहर 12:00 से आहूत की गई है जिस बैठक में मैट्रिक एवं इंटरमीडिएट परीक्षा में असहयोग एवं अन्य मुद्दों पर विचार किया जाएगा. बैठक का मुख्य विचारणीय बिंदु नए नियोजित शिक्षकों को पुराने शिक्षकों की भांति वेतनमान एवं हूबहू सेवा शर्त है.

उक्त बातें बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के संयोजक सह प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष ब्रजनंदन शर्मा ने कही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here