विश्वास ना तोड़े

0
157

इन्सान और इन्सान के दर्मियान ही नहीं ख़ुदा और बंदे के बीच भी अगर कोई रिश्ता क़ायम है तो वो सिर्फ़ भरोसे की विश्वास की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here