Home Breaking News शिक्षकों को कोरोना वारियर्स के रूप में 50 लाख बीमा योजना में...

शिक्षकों को कोरोना वारियर्स के रूप में 50 लाख बीमा योजना में शामिल नही करने पर शिक्षक करेंगे कार्य का बहिष्कार।

पटना:- टीईटी शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के कोर कमेटी सदस्य एवं टीएसएस मूल के प्रदेश अध्यक्ष अमरदीप डिसूज़ा ने शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आर के महाजन को पत्र सौंपकर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के पत्रांक DO. NO. F. No.- 2-18061/1/2020/PGKPNHM दिनांक-03/04/2020 एवं स्वास्थ्य विभाग का पत्रांक- 59 (ओ. स. को.) दिनांक 07/04/2020 अनुसार

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत कोविड-19 कोरोना महामारी में कार्य करने वाले कर्मियों की मौत होने पर 50 लाख रुपये की बीमा का प्रावधान किया गया है। इस योजना में अभी तक आशा,आंगनबाड़ी एवं स्वास्थ्य कर्मियों के साथ साथ अन्य कर्मचारियों को भी शामिल किया गया है।

बिहार के टीईटी शिक्षको को बाहर से आने वाले प्रवासी बिहारियों की कोविड-19 से बचाव, देख-रेख, सेवा हेतु शिक्षकों को भी रेलवे स्टेशन,कोरोनटाइन सेंटर एवं अन्य कार्यो के उद्देश्य से कोरोना वारियर्स के रूप में प्रतिनियुक्ति की गई है। जिसके कारण शिक्षको के कोरोना संक्रमित व्यक्तियों से सीधे संपर्क में आने की प्रबल संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है। इसके बावजूद भी शिक्षकों को अन्य कोरोना वारियर्स की भांति 50 लाख रुपये की बीमा योजना से नही जोड़ना यह साबित करता है कि इस महामारी में भी शिक्षकों के साथ सरकार भेदभावपूर्ण, जोर जबरदस्ती एवं कानून का भय दिखाकर काम करवाना चाहती है। प्रदेश अध्यक्ष अमरदीप डिसूज़ा ने कहा कि यदि सरकार 50 लाख रुपये की बीमा योजना में टीईटी शिक्षकों को नही जोड़ती है तो आने वाले दिनों में शिक्षक विवश होकर कार्य बहिष्कार कर सकते है।

मीडिया प्रभारी नेहा सिंह ने कहा कि सरकार कोरोना महामारी में काम करने वाले सभी कर्मियों को कोरोना वारियर्स मानती है लेकिन शिक्षको को नही यह चिंतनीय है, क्या शिक्षक सरकार के नज़र में अछूत की श्रेणी में आते है जिसे हर तरफ़ से प्रताड़ित किया जा रहा है।आखिर प्रत्येक कोरोना वारियर्स की भांति शिक्षकों को सम्मान क्यों नही दिया जा रहा है ?

संघ के लीगल एडवाइजर संजय सिंह ने कहा कि 50 लाख रुपये की बीमा योजना भारत सरकार के तरफ से दिया गया तो राज्य सरकार आखिर इसमें शिक्षकों को क्यों नही जोड़ना चाहती है उन्होंने बताया कि सरकार के खिलाफ इस मामले को लेकर संघ कोर्ट का रुख करेगी एवं शिक्षको को न्याय दिलाने का काम करेंगे।जिससे शिक्षक कोरोना वारियर्स के रूप में निर्भीक,भयमुक्त तथा चिंतामुक्त होकर कोरोना से जंग में सरकार का साथ दे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here