समान काम समान वेतन के लिए बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति की लगातार हो रही बैठकें

17 अगस्त को जिला मुख्यालयों पर आंदोलन को धारदार बनाने और सभी संघों की सहभागिता को लेकर लगातार हो रही है बैठकें।

प्रस्तुत है सीतामढ़ी से सविता झा की रिपोर्ट

सीतामढ़ी, दिनांक 13 अगस्त को जिला प्राथमिक शिक्षक संघ भवन में बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति, जिला इकाई सीतामढ़ी की ओर से एक बैठक आयोजित की गयी। जिसमें राज्यव्यापी आंदोलन के तहत जिला मुख्यालय में 17 अगस्त को होने वाली शांतिपूर्ण धरना की सफलता को लेकर समीक्षा की गयी । बैठक में सभी संघों के अध्यक्ष / महासचिव ने कार्यक्रम में जिले के सभी शिक्षकों से भाग लेने की अपील की।
बैठक में उमा शरण , सतेंद्र मिश्रा , राम कलेवर , पवन कुमार , शशि रंजन सुमन , श्याम सुंदर , मधुरेन्द्र नारायण , शिवेश कुमार मिश्र , मनीष कुमार सिंह , विकास कुमार , मोहम्मद महफूज आलम , मोहम्मद ईमरान , जितेंद्र राम , राकेश पासवान , मुकेश कुमार पासवान उपस्थित थे।
उक्त जानकारी बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति, सीतामढ़ी, के कार्यालय सचिव सह मीडिया प्रभारी शशि रंजन सुमन ने दी।

वही मुजफ्फरपुर से मनोज सिंह ने बताया कि 17अगस्त के जिला स्तरीय कार्यक्रम के लिए जिला शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति की बैठक मे सभी संघ के प्रतिनिधि भाग लिए एवं सभी संघ ने शिक्षकों से अहवान किया कि मुजफ्फरपुर समाहरणालय के सामने जोरदार ढंग से धरना हेतु सभी शिक्षक शिक्षिका अपनी उपस्थिति दर्ज करें। इस बैठक में प्राथमिक शिक्षक संघ के महासचिव महिंद्र शाही के साथ साथ विभिन्न संगठनों के जिला अध्यक्ष/सचिव और अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे।

अगली खबर है मोतिहारी से
आइए देखते है मोतिहारी से माया कुमारी की रिपोर्ट
आज दिनांक 13 अगस्त 19 को गांधी मैदान मोतिहारी में बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति की बैठक बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष-सह-जिला संयोजक रामधारी प्रसाद यादव की अध्यक्षता में हुई! बैठक का संचालन जयनारायण सिंह ने किया!
बैठक को संबोधित करते हुए नेता द्वय ने संयुक्त रूप से कहा कि जिले के सभी नियमित एवं नियोजित शिक्षक 17 अगस्त 2019 को अपनी मांगों के समर्थन में सर्व शिक्षा अभियान कार्यालय (अंबेडकर भवन) के समक्ष महा धरना में अनिवार्य रूप से भाग लेंगे!
उन्होंने कहा कि जब तक समान काम समान वेतन, समान सेवा सर्त,पुरानी पेंशन, अनुकंपा पर बहाली के लिए प्रशिक्षण एवं पात्रता परीक्षा की अनिवार्यता खत्म नहीं हो जाती है तब तक हमारी लड़ाई जारी रहेगी! साथ ही सर्वसम्मति से पारित किया गया कि बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के जिला संयोजक डॉक्टर रामधारी प्रसाद यादव के अलावा कोई नहीं है!अगर कोई शिक्षक नेता संयोजक बैनर का प्रयोग या लेटर पैड का प्रयोग करता है तो उसे पूरी तरह फर्जी माना जाएगा!
बैठक में परिवर्तनकारी प्रारंभिक शिक्षक संघ, बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ, T E T , S T E T उत्तीर्ण नियोजित शिक्षक संघ, बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ मूल, परिवर्तनकारी शिक्षक महासंघ, शिक्षक एकता मंच, T E T शिक्षक संघ, प्रारंभिक शिक्षक न्याय मोर्चा, बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ सहित सभी शिक्षक संगठनों ने भाग लिया! बैठक में डॉ रामधारी प्रसाद यादव,जय नारायण सिंह,प्रियरंजन सिंह,ओमप्रकाश सिंह, सतीश कुमार सिंह,नवलकिशोर सिंह,अशोक चौधरी,गोलू सिंह, रमन कुमार,मनीष कुमार,राघवेंद्र प्रसाद,राहुल सिंह, संतोष यादव,राजेश कुमार,मणि भूषण यादव, रतीश रंजन, जितेंद्र कुमार मिश्रा एवं बृजेश कुमार चौधरी आदि उपस्थित रहे!
आज के बैठक में निम्नलिखित प्रस्ताव पारित किए गए:-
1. 17 अगस्त 19 को सर्व शिक्षा अभियान कार्यालय,कचहरी चौक के बगल में एक दिवसीय महा धरना किया जाएगा!इसकी सफलता हेतु बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के सभी शिक्षक संगठन (नियमित एवं नियोजित) के शिक्षक गण शत प्रतिशत संख्या में अनिवार्य रूप से भाग लेंगे!इसका प्रचार-प्रसार जोर-शोर से किया जाएगा!
2. उक्त कार्यक्रम की अध्यक्षता बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के जिला संयोजक डॉ रामधारी प्रसाद यादव करेंगे!
3. सर्वसम्मति से पारित किया गया कि बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के जिला संयोजक डॉ रामधारी प्रसाद यादव के अतिरिक्त अगर किसी भी संघ का प्रतिनिधि जिला संयोजक के रूप में अपने नाम का या बैनर या लेटर पैड का प्रयोग करता है तो उसे फर्जी माना जाएगा! ऐसे कथित शिक्षक नेता,बैनर या लेटर पैड से बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति से कोई संबंध नहीं है!

अगली खबर है जमुई से
आइए देखते है जानकी गुप्ता की रिपोर्ट

जमुई जिला के सिकंदरा प्रखंड में शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के बैनर तले आयोजित 17 अगस्त को जिला में और 5 सितंबर को पटना के गाँधी मैदान में प्रस्तावित कार्यक्रम की सफलता के बारे में संघ की रणनीति के बारे में विस्तार पूर्वक चर्चा हुई इस अवसर पर बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश सचिव आदरणीय विपिन बिहारी भारती द्वारा ये कहा गया कि 17 अगस्त एवं 5 सितंबर का कार्यक्रम शिक्षक आंदोलन के इतिहास के लिए मिल का पत्थर साबित होगा एवं इस सरकार के ताबूत की आखिरी कील साबित होगा,मौके पर लखीसराय जिला महासचिव बनारसी महतो जी,लखीसराय जिला कोषाध्यक्ष सुबोध जी,हलसी प्रखंड अध्यक्ष नंदकिशोर जी सहित स्थानीय शिक्षक साथी मौजूद थे सबों ने मिलकर 17 अगस्त एवं 5 सितंबर के कार्यक्रम की सफलता हेतु तन मन धन से सहयोग देकर कार्यक्रम को ऐतिहासिक बनाने का प्रण लिया।

बिहार की शेरनी चांदनी झा की अपील

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here